भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद
केन्द्रीय समुद्री मात्स्यिकी अनुसंधान संस्थान
  • कन्‍याकुमारी में कृत्रिम भित्तियों का निर्माण
  • क्‍यु आर टी पुनरीक्षण बैठक का दृश्‍य
  • कोवलम के खुला सागर पिंजरे में पालन की गयी समुद्री बास मछली का दृश्‍य
  • कोवलम क्षेत्र प्रयोगशाला में शूली महाचिंगट का अंडशावक (ब्रूडस्‍टॉक)

Home चेन्‍नई

अनुसंधान के महत्‍वपूर्ण क्षेत्र

तमिल नाडु की टिकाऊ मात्स्यिकी प्रबंधन के लिए परामर्श

महाचिंगट के संतति उत्‍पादन और पालन प्रौद्योगिकी का विकास

पिंजरा मछली पालन तकनीक का प्रचार

तमिल नाडु में तटीय आवास तंत्रों / कृत्रिम भित्ति का उन्‍नयन और पुनःस्‍थापना

सामाजिक-आर्थिक अध्‍ययन और सामुदायिक सशक्‍तीकरण

चालू अनुसंधान परियोजनाएं

  • गृहांदर परियोजनाएं

समुद्री मात्स्यिकी सेक्‍टर के लिए जी आइ एस पर आधारित प्रबंधन परामर्श समर्थन व्‍यवस्‍था

भारतीय समुद्री मात्स्यिकी संपदाओं के लिए दूर संवेदन से समर्थित बयोडायनामिक पूर्वानुमान प्रतिमान

भारतीय समुद्रों में उपास्थिमीन संपदाओं का आकलन

भारतीय समुद्रों में बड़े पेलाजिकों की स्‍टॉक मात्स्यिकी कायम रखने की विकासात्‍मक कार्यनीतियॉं

तमिल नाडु और पुदुच्‍चेरी की समुद्री मात्स्यिकी के टिकाऊपन के लिए मात्स्यिकी प्रबंधन योजनाओं का विकास

 

मात्स्यिकी प्रबंधन की कार्यनीतियों पर सुझाव देने के लिए भारतीय तट की पख मछलियों एवं कवच मछलियों के वितरण तथा प्रचुरता का जी आइ एस पर आधारित संपदा मानचित्रण

भारत की द्विकपाटी मात्स्यिकी के लिए मात्स्यिकी प्रबंध योजनाओं (एफ एम पी) का विकास

भारत में अलंकारी जठरपाद मात्स्यिकी का मूल्‍यांकन और कवच शिल्‍प कला उद्योग का आकलन

तटीय एवं समुद्री आवास तंत्रों में प्रदूषण और अपशिष्‍ट तथा इनका प्रभाव

संकटपूर्ण समुद्री आवासों के लिए आवास तंत्र प्रक्रियाओं की जांच और पुनस्‍थापना के लिए नयाचार

समुद्री मात्स्यिकी का अर्थशास्‍त्र और टिकाऊ प्रबंधनः नीति मामले और हस्‍तक्षेप

भारत में समुद्री मात्स्यिकी सेक्‍टर का पूर्ति श्रृंखला प्रबंधन

चुनी गयी उच्‍च मूल्‍य वाली पख मछलियों और कवच मछलियों के संतति उत्‍पादन प्रौद्योगिकियों के विकास एवं मानकीकरण

समुद्री पिंजरा मछली पालन और समुद्री संवर्धन में नवोन्‍मेष

समुद्री संपदाओं के समुद्री संवर्धन और अक्‍वारिकल्‍चर हेतु चुनी गयी पख मछलियों और कवच मछलियों का स्‍वास्‍थ्‍य प्रबंधन

ब्‍लैकलिप मुक्‍ता शुक्ति पिंक्‍टाडा मार्गरिटिफेरा से स्‍वस्‍थाने मोती उत्‍पादन के लिए ऊतक संवर्धन प्रौद्योगिकी का विकास और पिंक्‍टाडा फ्यूकेटा में स्‍वस्‍थाने मोती उत्‍पादन में शोधन

समुद्री संवर्धन हेतु चुनी गयी उच्‍च मूल्‍य वाली मछलियों के पुनरुत्‍पादन कार्यनीतियों का महत्‍वपूर्ण आकलन


ख. प्रायोजित परियोजनाएं

जलवायु लचीला कृषि पर राष्‍ट्रीय नवोन्‍मेष (एन आइ सी आर ए)- समुद्री मात्स्यिकी

उपास्थिमीनों का बार कोडिंग (पृथ्‍वी विज्ञान मंत्रालय)

 

  • परामर्श परियोजनाएं

तमिल नाडु तट के 17 गॉंवों के तटीय समुद्र में कृत्रिम भित्तियों की स्‍थापना (मात्स्यिकी विभाग, तमिल नाडु सरकार के सहयोग से)

तमिल नाडु तट के 2 जिलों के तटीय समुद्र में कृत्रिम भित्तियों की स्‍थापना (आइ एफ ए डी)

तमिल नाडु तट के 4 जिलों के तटीय समुद्र में कृत्रिम भित्तियों की स्‍थापना (आइ एफ ए डी)

तमिल नाडु तट के कांचीपुरम जिले के 2 गॉंवों के तटीय समुद्र में कृत्रिम भित्तियों की स्‍थापना (तमिल नाडु राज्‍य मात्स्यिकी विभाग)

तमिल नाडु तट के 6 जिलों के 12 गॉंवों के तटीय समुद्र में कृत्रिम भित्तियों की स्‍थापना (आइ एफ ए डी)

 

 पूरी की गयी अनुसंधान परियोजनाएं (पिछली योजना अवधि)

  • गृहांदर परियोजनाएं

समुद्री मात्स्यिकी के टिकाऊपन के लिए ज्ञान पर आधारित सूचना व्‍यवस्‍थाओं का विकास

समुद्री मात्स्यिकी प्रबंधन के लिए निर्णय समर्थन व्‍यवस्‍था

तमिल नाडु और पुदुच्‍चेरी की समुद्री मात्स्यिकी के टिकाऊपन के लिए प्रबंधन परामर्श

भारतीय तट पर ट्यूना मात्स्यिकी के टिकाऊपन के लिए कार्यनीतियॉं

भारतीय शैवालों में कार्बन पृथक्‍करण की शक्‍यता

समुद्री मात्स्यिकी में संपदा ह्रास का आकलनः आनाय मात्स्यिकी में किशोर मछलियों, उप पकड़ और अवांछित मछलियों का चयनात्‍मक मत्‍स्‍यन

समुद्री मात्स्यिकी प्रबंधन में पोषक प्रतिमान का प्रयोग

कवच मछली में संतति उत्‍पादन के लिए प्रौद्योगिकी विकास

विविध समुद्री संवर्धन व्‍यवस्‍थाओं का विकास

समुद्री पिंजरा मछली पालन में नवोन्‍मेष और प्रग्रहण पर आधारित टिकाऊ जलजीव पालन (सी बी ए) व्‍यवस्‍थाओं के विकास

समुद्री केकड़ों, महाचिंगटों, अलंकारी एवं पिंजरे में पालित पख मछलियों के डिंभक (लार्वा) तथा पालन हेतु खाद्य निर्माण एवं मूल्‍यांकन

समुद्री संवर्धन की गयी पख मछलियों और कवच मछलियों में रोगजनक प्रोफाइलिंग, निदान और स्‍वास्‍थ्‍य प्रबंधन

समुद्री संवर्धन एवं परिरक्षण में जैवप्रौद्योगिकीय प्रयोग

समुद्र तटीय पर्यावरण और मात्स्यिकी पर मानवीय गतिविधियों का प्रभाव

भारतीय तट पर छोटे पेलाजिकों के वितरण बदलाव पर पर्यावरणीय परिवर्तनों के प्रभाव और उपज अध्‍ययन

संकटपूर्ण समुद्री आवासों के लिए आवास तंत्र प्रक्रियाएं और पुनस्‍थापना के लिए योजनाएं

समुद्री मात्स्यिकी व्‍यापार और बदल निवेश विकल्‍पों का लाभ लागत विश्‍लेषण

भारत के मात्स्यिकी विपणन पर डब्लियु टी ओ का प्रभावः एक नीति परिप्रेक्ष्‍य

भारत में समुद्री मात्स्यिकी का कुल कारक उत्‍पादकता विश्‍लेषण

  • प्रायोजित परियोजनाएं

जलवायु परिवर्तन की ओर भारतीय समुद्री मात्स्यिकी के प्रभाव, अनुकूलन और भेद्यता

भारतीय अनन्‍य आर्थिक क्षेत्र और समीपस्‍थ समुद्रों के समुद्री स्‍तनियों पर अध्‍ययन(पृथ्‍वी विज्ञान मंत्रालय)

समुद्री संवर्धन व्‍यवस्‍थाओं की उच्‍च मूल्‍य वाली कवच मछलियों पर पूर्ति श्रृंखला (एन ए आइ पी)     (वर्ष 2014 में पूरी की गयी)

केरलमें मछली प्रसंस्‍करण और विपणन द्वारा महिला सशक्‍तीकरण (एन ए आइ पी)

  

  • परामर्श परियोजनाएं

तमिल नाडु के नागपट्टिणम जिले के सीरकाषी गॉंव के पेरुन्‍तोट्टम में सिंध्‍या पावर जेनरेटिंग कंपनी लि. के लिए मराइन रैपिड ई आइ ए अध्‍ययन

 

प्रौद्योगिकियॉं / अवधारणाएं / जांच-परिणाम

  • भारत में उष्‍णकटिबंधीय महाचिंगटों के परिपक्‍वन और अंडशावका विकास
  • सिल्‍लारिड महाचिंगट (थीनस यूनिमाक्‍युलेटस/ पेट्रार्क्टस रुगोसस) का संतति उत्‍पादन
  • उत्‍तर तमिल नाडु तट पर खुला सागर पिंजरे में महाचिंगटों और पख मछलियों का पालन
  • तटीय समुद्र में कृत्रिम भित्तियों के लिए स्‍थान चयन, ढ़ांचा, निर्माण और विनियोजन

घटना कैलन्डनर

Back to Top